आगरा की जरूरतों को राजनीतिक एजेंडा में जगह देने की मांग

आगरा : सिविल सोसायटी ऑफ़ आगरा ने विभिन्न राजनैतिक दलों द्वारा अपनी चुनावी रणनीति में आगरा को भी शामिल करने की मांग की है। साथ ही, संगठन ने ताज नगरी की जरूरतों के अनुसार तथ्यपरक जानकारी देने के लिए एक विशेष अभियान शुरू किया है।

इसके तहत सोसायटी के महासचिव अनिल शर्मा ने कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद से उनके आगरा आगमन पर मुलाकात की। शर्मा ने शहर की अपेक्षाओं के अनुसार कांग्रेस से आग्रह किया कि आगरा में ऑटोमोबाइल एक्ट का पूरी तरह से अनुपालन हो। इस नीति के तहत 15 साल के बाद फिटनेस चेक करने के बाद ही वाहनों को अगले पांच साल और चलाए जाने का प्रावधान है।

ध्यान रहे, वर्तमान में लागू ऑटोमोबाइल पॉलिसी में भी फिटनेस सर्टिफिकेट पाए वाहनों को चलते रहने का प्रावधान है, किन्‍तु आगरा में इनका इस्तेमाल 15 साल के बाद नहीं होने दिया जाता।

संगठन का मानना है कि आगरा की जनता मोटर व्‍हीकल एक्‍ट के तहत जुर्मानों की बढ़ाई राशि से भी बेहद त्रस्‍त है। जुर्माना करने और वसूलने के नाम पर महानगर के चौराहों पर नागरिकों को प्रशासन की मनमानी का सामना करना पड़ रहा है। महानगर के खराब ट्रैफिक सिग्नल सिस्टम ने हालातों को और बदतर बनाकर रख दिया है।

सिविल सोसायटी ऑफ़ आगरा ने कांग्रेस के प्रदेश सचिव के समक्ष महानगर बस सेवा में सुधार को भी पार्टी के चुनावी एजेंडा में शामिल करने का आग्रह किया। आगरा सहित प्रदेश के जितने भी नगर निगम प्रबंधित नगरों व महानगरों में सिटी बस संचालित है, वे नागरिकों की जरूरत पूरी करने में नाकाम हैं। ये संपर्क की आधारभूत जरूरत हैं।


Related Items

  1. लॉयन्स क्लब ऑफ आगरा ने किया वृक्षारोपण

  1. आगरा के चर्च में मूर्छित होकर गिरा दुर्लभ प्रजाति का गिद्ध!

  1. भोजपुरी पर्दे पर छाने को तैयार आगरा की खूबसूरत काव्या सिंह